Breaking News

पुदीना एक फायदे अनेक, जाने इसके आरोग्यकारी गुण

पुदीना एक फायदे अनेक, जाने इसके आरोग्यकारी गुण पुदीने के फायदे

पुदीने के फायदे

प्रिय दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको पुदीना खाने के अनेक लाभ के बारे में बतायेंगे, पुदीना हमें कई प्रकार की बीमारियों में फायदा पहुंचाता है दोस्तों हरी सुंगधित पत्तियों वाले पुदीने से कौन परिचित नही है. पुदीने में विटामिन ए, बी, सी, डी और ई के अतिरिक्त आयरन, फास्फोरस और कैल्सियम भी प्रचुर मात्रा में पाए जाते है. पुदीना उदर रोगों के लिए लाभकारी औषधि है. यह जुकाम, खाँसी, दमा, अर्जिर्ण, अफारा, अतिसार, हैजा तथा कृमि का नाश करता है पुदीने के पत्ते खुशबूदार तथा सुगंधित होते है तो दोस्तों आइये जानते है  पुदीना के औषधीय गुण.

पुदीना के घरेलु उपाचार पुदीने के फायदे पुदीना के उपयोग


  • वायु पीड़ा कम करने के लिए : १ चम्मच पुदीने का रस, २ चम्मच शहद, नींबू का रस, एक चम्मच मिलाकर पीने से पेट की गैस तथा वायु पीड़ा दूर हो जाती है.
  • पित्त रोग का उपाय : १० ग्राम पुदीना तथा २० ग्राम लाल शक्कर पानी में उबालकर पीने से पित्ते रोग दूर हो जाता है.
  • दाग धब्बे का इलाज : पुदीने की पत्तियों को पीसकर चेहरे पर लेप लगाने से मुंहासे तथा दाग-धब्बे दूर होते है.
  • बलगम : अंजीर के साथ पुदीने के पत्ते खाने से सिने में जमा हुआ बलगम साफ़ हो जाता है.
  • सर्दी जुकाम का इलाज : पुदीने की पत्तियां पानी में उबालकर उसकी भाप लेने से सर्दी-जुकाम ठीक हो जाता है.
  • हैजा-दस्त से छुटकारा : पुदीने के पत्तो का रस पिलाने से हैजा, दस्त तथा उल्टी में शीघ्र लाभ होता है.
  • मूत्र रोग का इलाज : मूत्र की बिमारीयों में पुदीने का सेवन लाभकारी होता है.
  • हिचकी बंद करने के लिए : अंजीर के साथ पुदीना के पत्ते खाने से हिचकी बंद होती है.
  • हैजा का इलाज : पुदीने का अर्क कपूर के साथ सेवन करने से लाभ होता है.
  • घाव ठीक करने के लिएः पुदीने की लुगदी बनाकर घाव पर लगाने से घाव ठीक हो जाता है.
  • भूख खुलना : पुदीने की चटनी का हररोज सेवन करने से भूक खुलकर लग जाती हैं.
  • नकसीर का इलाज : नकसीर आने पर ठंडे पानी में पुदीने का अर्क डालकर पीने से नकसीर बंद हो जाती है.

No comments