SUNITA DEVI

ये है पृथ्वी की आखिरी सड़क, आखिर क्यों इसे आखिरी सड़क कहा जाता है, जरूर जान लें


नॉर्थ कोरिया उत्तरी ध्रुव के बारे में तो आपने सुना ही होगा. यह धरती का सबसे सुदूर उत्तरी बिंदु है. हमारी पृथ्वी इसी धुरी पर घूमती है. यह आर्कटिक महासागर में स्थित है और यहां पर हमेशा बर्फ की मोटी चादर बिछी रहती है.

यह नार्वे का आखिरी छोर है और यहां से गुजरने वाली सड़क को दुनिया की आखिरी सड़क माना जाता है. पृथ्वी के एक छोर और नार्वे को जो सड़क जोड़ती है उसे e69 नाम दिया गया है. इससे आगे कोई भी सड़क नहीं है इसलिए इसे दुनिया की आखिरी सड़क कहा जाता है.

यह 14 किलोमीटर लंबा एक हाईवे है. लोगों को सलाह दी जाती है कि वह अकेले इस रास्ते से ना गुजरे. क्योंकि बहुत से लोग अकेले ट्रैवल करते वक्त गायब हो जाते हैं.

यहां पर कड़ाके की ठंड पड़ती है और रोजगार का एकमात्र माध्यम मछली पालन ही है.1930 के बाद से इस इलाके का धीरे-धीरे विकास होने लगा. वहां के स्थानीय निवासियों ने यह फैसला किया कि यहां पर पर्यटकों को आकर्षित किया जाए तकि रोजगार के अवसर उपलब्ध हो.

उत्तरी ध्रुव के पास स्थित होने के कारण यहां सर्दियों में रास्ते कभी खत्म नहीं होती और गर्मियों में कभी सूरज नहीं डूबता. बहुत से पर्यटक यहां आकर अपने आप को दूसरी दुनिया में ही महसूस करते हैं. यहां लोग प्रकृति को ज्यादा तवज्जो देते हैं.